सुरक्षा इंतजाम नहीं होने से सीवरेज लाइन पर काम कर रहे चार मजदूर मिट्टी में धंसे

माउंटआबू.

जिले के आबूरोड शहर के केसरगंज क्षेत्र में ब्रह्मपुरी कॉलोनी के पास करवाए जा रहे सीवरेज कार्य के दौरान बुधवार सवेरे मिट्टी धंसने से मौके पर काम कर रहे 4 श्रमिक इसके नीचे दब गए। घायलों को नजदीकी आकराभट्टा स्थित सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने 2 श्रमिकों को मृत घोषित कर दिया। घायल अन्य दोनों श्रमिकों का इलाज शुरू कर दिया गया है।

घटना की सूचना मिलते ही माउंटआबू डीवाईएसपी अचलसिंह, नगरपालिका चेयरमैन मगनदान चारण, आबूरोड एसडीएम वीरमाराम, आबूरोड शहर थानाधिकारी बंशीलाल साद एवं एएसआई भरत कुमार प्रजापत सहयोगियों के साथ मौके पर पहुंचे। माउंटआबू डीवाईएसपी अचलसिंह ने बताया कि केसरगंज क्षेत्र में ब्रह्मपुरी कॉलोनी के पास सीवरेज का काम चल रहा था। इस दौरान 4 श्रमिक चैंबर में पाइपलाइन कनेक्शन का काम कर रहे थे तभी अचानक मिट्टी अंदर धंसने चारों श्रमिक उसमें दब गए। घटना की सूचना मिलते ही पुलिसकर्मी एवं आसपास के लोगों ने मौके पर पहुंचकर मिट्टी में दबे श्रमिकों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने दो को मृत घोषित कर दिया। मृत श्रमिकों के शवों को मोर्चरी में रखवाकर उनके परिजनों को सूचना दे दी गई है। आसपास के लोगों ने बताया कि रातभर से यहां काम चल रहा था लेकिन न तो यहां लाइट की कोई व्यवस्था थी और ना ही जनरेटर था। इसके साथ ही मिट्टी भी गीली थी। सभी श्रमिक अंधेरे में काम कर रहे थे, इस वजह से यह हादसा हुआ। इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी अभी तक एलएनटी एवं रूडीफ के जिम्मेदार अधिकारी न तो मौके पर पहुंचे तथा न ही अस्पताल पहुंचकर घायलों की कुशलक्षेम पूछी।

नहीं थे सुरक्षा के कोई प्रबंध
शहर में एल एंड टी द्वारा सीवरेज का काम करवाया जा रहा है। कंपनी ने यह काम किसी शर्माजी को सबलेट कर रखा था। प्रथम दृष्टया मौके पर सुरक्षा के निर्धारित मापदंडों की अनदेखी करना सामने आया है। मामले की जांच की जा रही है।