मुख्यमंत्री मोहन यादव ने गणतंत्र दिवस अवसर पर किसानों को दिया तोफा, 1 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि

उज्‍जैन
गणतंत्र दिवस को लेकर उज्जैन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मोहन यादव शामिल हुए और उन्होंने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अपने भाषण में कई घोषणाएं की। साथ ही प्रदेश की कई उपलब्धियों का भी जिक्र किया। मुख्‍यमंत्री ने इस दौरान स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण 2023 में इंदौर सहित अन्‍य शहरों द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों का जिक्र करते हुए सफाई मित्राें की तारीफ की। वहीं गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रदेश की जेल में बंद 161 कैदियों को रिहा करने की भी घोषणा की।
 
चित्रकूट बनेगा विश्‍व स्‍तरीय धार्मिक और पर्यटन का केंद्र
सीएम यादव ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर में भगवान श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा से राम राज्य की संकल्पना जीवंत हो गई है। मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि चित्रकूट को विश्‍व स्‍तरीय धार्मिक और पर्यटन केंद्र बनाने का निर्णय लिया गया है। यहां प्रतिवर्ष रामायण मेला आयोजित किया जाएगा। साथ ही मप्र सरकार सीएम तीर्थ दर्शन योजना के तहत हवाई और रेल मार्ग से अयोध्या की यात्रा कराएगी। इसके साथ ही ओरछा के श्री रामराजा मंदिर परिसर में श्री राम राजा लोक का निर्माण कर रही है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा, "…राज्य सरकार ने चित्रकूट को विश्व स्तरीय धार्मिक पर्यटन केंद्र बनाने का निर्णय लिया है। यहां हर साल 'रामायण मेला' भी आयोजित किया जाएगा

किसानों को मिलेगी प्रोत्साहन राशि
सीएम ने कहा कि राज्‍य सरकार द्वारा श्री अन्न उत्पादन में क्रांति लाने के लिए 100 करोड़ रुपये से अधिक की रानी दुर्गावती श्री अन्‍न प्रोत्साहन योजना लागू की गई है । श्री अन्न उत्पादन करने वाले किसानों को 10 रुपये प्रति किलो प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। 1 हजार रुपये प्रति क्विंटल की धनराशि का भुगतान किया जाएगा।

1.29 करोड़ महिलाओं के खाते में जमा किए 1576 करोड़ रुपये
सीएम ने अपने भाषण में कहा कि पीएम के आह्वान पर 10 से 15 जनवरी तक महिला सशक्तिकरण और युवा ऊर्जा पर केंद्रित मकर संक्रांति पर उत्‍सव उल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान 1 करोड़ 29 लाख महिलाओं के खाते में 1576 करोड़ की राशि और 56 लाख से अधिक हितग्राहियों के खाते में 341 करोड़ रुपये की सामाजिक सुरक्षा पेंशन अंतरित की गई।

सीएम की अन्‍य बड़ी बातें

उज्जैन में मेडिसिटी बनाई जाएगी। जिसके निर्माण से सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधा मिलेगी। यह प्रदेश की पहली मेडिसिटी होगी।

हमने मध्य प्रदेश के इतिहास की सर्वाधिक 17 हजार 586 मेगावाट बिजली की पूर्ति बिना किसी कटौती के की है।

पेपरलेस बिलिंग व्यवस्था लागू करने से 136 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष बचत की संभावना

5 शहरों को सोलर सिटी बनाने का लक्ष्य है

मप्र दाल उत्पादन में पहले, खाद्यान्‍न उत्‍पादन में दूसरे और तिलहन उत्पादन में तीसरे स्थान पर है

उज्जैन में कपिला गौशाला के लिए योजना बनाई जाएगी।

मोबाईल पशु चिकित्सा यूनिट के माध्‍यम से 3 लाख 60 हजार पशु चिकित्सा उपलब्ध कराई गई है।

    विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान मध्य प्रदेश के 50 से अधिक लोगों को लाभान्वित किया गया। यात्रा के दौरान 2 करोड़ से अधिक लोग शामिल हुए।