मुख्यमंत्री डॉ. यादव को दी “लीडर” अवार्ड की जानकारी

भोपाल

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव को भारत सरकार के वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा मध्यप्रदेश को स्टार्टअप रेंकिंग में लीडर के रूप में पुरस्कृत किए जाने की उपलब्धि से अवगत करवाया गया। सूक्ष्म,लघु, मध्यम उद्यम मंत्री श्री चैतन्य कुमार काश्यप, विभाग के सचिव श्री पी नरहरि और निदेशक एमएसएमई श्री रोहित सिंह ने प्राप्त अवार्ड का विस्तृत विवरण मुख्यमंत्री डॉ. यादव को दिया। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने प्रदेश को यह अवार्ड प्राप्त होने पर हर्ष व्यक्त करते हुए विभागीय टीम को बधाई दी। मध्यप्रदेश को यह अवार्ड हाल ही में केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग, उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सावर्जनिक वितरण तथा कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने भारत मंडपम प्रगति मैदान, नई दिल्ली में प्रदान किया। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश की स्टार्टअप नीति के कारण राज्य में उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) मान्यता प्राप्त स्टार्टअप की संख्या दो वर्ष से कम अवधि में 108 प्रतिशत से अधिक बढ़ गई है।

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव से आज मंत्रालय में सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम मंत्री श्री चैतन्य कुमार काश्यप ने भेंट कर मध्यप्रदेश को प्राप्त "लीडर" अवार्ड के संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। मुख्यमंत्री डॉ. यादव को बताया गया कि भारत के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग ने राज्यों की स्टार्टअप रैंकिंग 2022 और राष्ट्रीय स्टार्टअप पुरस्कार 2023 के अंतर्गत मध्यप्रदेश को "लीडर" के रूप में पुरस्कृत किया है। मध्यप्रदेश के सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्यम विभाग ने ऐसा सशक्त तंत्र विकसित किया, जिसके फलस्वरूप प्रदेश के उच्च शिक्षा संस्थानों में स्टार्टअप जागरूकता का कार्य हो सका। इसके साथ ही इंटरैक्टिव पोर्टल के निर्माण और स्टार्टअप एवं निवेशकों के मध्य बैठकों का आयोजन भी किया गया। मध्यप्रदेश की नई स्टार्टअप नीति एवं कार्यान्वयन योजना 2022 लागू की गई जिसका प्रधानमंत्री जी ने वर्चुअली उद्घाटन किया था। इसी वर्ष मध्यप्रदेश में विशाल स्टार्टअप कॉन्क्लेव भी आयोजित किया गया था।