अयोध्या के प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में फिल्ममेकर मधुर भंडारकर भी पहुंचे थे, उन्होंने बताया वो पल हर आंख में थे आंसू

अयोध्या
अयोध्या के प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में फिल्ममेकर मधुर भंडारकर को भी शामिल होने का मौका मिला था। इस इवेंट में जाकर वह खुद को लकी मान रहे हैं। कार्यक्रम हो जाने के बाद उन्होंने अपना अनुभव साझा किया है। मधुर ने बताया कि वहां की एनर्जी अलग लेवल की थी। उन्होंने बताया कि एक ऐसा पल आया जब किसी के आंसू नहीं रुके। मधुर बाहर बैठकर बड़े पर्दे पर उस पल के गवाह बन रहे थे और उनके लिए वो मौका बेहद अभिभूत करने वाला था।

जीवनभर याद रखूंगा
मधुर भंडारकर ने बातचीत में बताया, इस ऐतिहासिक पल का हिस्सा बनकर मुझे बहुत गौरवान्वित और प्रिविलेज्ड महसूस हो रहा है। सम्मानित एक्टर्स, क्रिकेटर्स, फिल्ममेकर्स और इंडस्ट्रियलिस्ट के बीच होकर मुझे बहुत खुशी महसूस हो रही थी। हमने जो भी देखा वो जीवन में एक बार ही मिलने वाला अनुभव था। मैं कई हफ्तों से इस पल के इंतजार में था। मैं इसे जीवनभर याद रखूंगा।

बताया इवेंट का बेहतरीन पल
मधुर ने बताया कि वहां बेस्ट मोमेंट कौन सा लगा। वह बोले, जब श्रीराम के दरवाजे खुले तो हर किसी की आंखों में आंसू थे। जब ऊपर से चॉपर सबके ऊपर गुलाब की पंखुड़ियां बरसा रहा था तो यह अद्भुत पल था। मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता। किसी को उस तरफ जाने की अनुमति नहीं थी तो हम प्रधानमंत्री मोदीजी से नहीं मिल पाए, पर वह बहुत खुश लग रहे थे और पूरी इंडस्ट्री इस उद्घाटन पर प्रफुल्लित थी।

फंक्शन में मिलीं कंगना
मधुर को वहां उनकी फिल्म फैशन की एक्ट्रेस कंगना भी मिल गई थीं। वह बोले, कंगना बहुत अच्छी दोस्त है। वह बहुत ही टैलेंटेड एक्ट्रेस हैं। वह मेरे पास ही बैठी थीं तो हमने साथ में तस्वीरें खींची।