अखंड भारत के बयान पर भले ही पाकिस्तान लाख आपत्ति दर्ज कराए, किसी की आपत्ति से अखंड भारत की बात समाप्त नहीं हो जाएगी: डॉ. मोहन यादव

भोपाल
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कहा है कि अखंड भारत के बयान पर भले ही पाकिस्तान लाख आपत्ति दर्ज कराए, लेकिन, विस्थापित शरणार्थियों के आने से पहले अखंड भारत ही था। किसी की आपत्ति से अखंड भारत की बात समाप्त नहीं हो जाएगी। अयोध्या में राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के एक बयान पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने आपत्ति दर्ज कराई है।

पाकिस्तान की आपत्ति पर डॉ. मोहन यादव ने कहा कि पाकिस्तान लाख आपत्ति दर्ज कराए, लेकिन, विस्थापित शरणार्थियों के आने से पहले अखंड भारत था। ननकाना साहिब सहित हमारे अखंड भारत के अतीत के जो हिस्से रहे हैं, अतीत के अखंड भारत के हिस्से को लेकर आज भी पंजाब, सिंध, गुजरात, मराठा हमारे राष्ट्रगान में है। पंजाब, सिंध, गुजरात, मराठा तो हटा नहीं सकते हैं। उन्होंने आगे कहा कि राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हुई है, उस अवसर पर हमारा सांस्कृतिक अखंड भारत का सपना हजारों हजार साल से रहा है। किसी के आपत्ति करने से बात समाप्त नहीं हो जाएगी, यह अपनी जगह स्थिर रहेगी।