नक्सली गतिविधियों से मुकाबला करने, विशेष पुलिस दस्ते की भर्ती प्रक्रिया शुरू

भोपाल

मध्य प्रदेश के नक्सल प्रभावित इलाके में हॉक फ़ोर्स जवानों के साथ विशेष पुलिस सहयोगी दस्ता भी मोर्चा संभालेगा। इसके लिए प्रभावित इलाकों में ब्लॉक स्तर पर भर्ती प्रक्रिया शुरू हो गई है। 150 पदों पर भर्ती की योजना है, जिसमें पहली खेप में मंडला जिले के लिए 30 पदों के लिए उम्मीदवारों का हुजूम उमड़ा हैं। फर्स्ट राउंड में 4 हजार से ज्यादा आवेदकों के आवेदन पहुंचे।

एमपी में नक्सली गतिविधियों से मुकाबला करने के लिए सरकार ने विशेष पुलिस सहयोगी दस्ता के लिए भर्ती प्रक्रिया को मंजूरी दी थी। जिसके तहत संवेदनशील प्रभावित क्षेत्रों में भर्ती अभियान चल रहा हैं। विकासखंड स्तर पर 150 पदों पर भर्ती होना हैं। बालाघाट जोन के मंडला जिले के कुछ ब्लॉक बहे चिन्हित किए गए थे। जहां 30 पद स्वीकृत हैं। इसके लिए 4 हजार से ज्यादा अभ्यर्थियों ने रूचि दिखाई हैं। मंडला एसपी दफ्तर में इन दिनों इस भर्ती अभियान में आवेदकों का हुजूम लगा हुआ हैं। 30 में से 10 पद महिला और 20 पद पुरुषों के लिए आरक्षित रखे गए है।

एडिशनल एसपी गजेन्द्र सिंह कंवर के मुताबिक आवेदन की अंतिम तारीख 28 दिसंबर तक कुल 4169 आवेदन जमा हुए। सभी आवेदनों की स्कूटनी कराई गई हैं। पात्र अभ्यर्थियों को निर्धारित चयन प्रक्रिया से गुजरना होगा। इसके लिए शारीरिक और लिखित परीक्षा आयोजित है। शारीरिक परीक्षा में दौड़ भी आयोजित है। जिसमें सफल उम्मीदवार लिखित परीक्षा में शामिल होंगे। फिर मेरिट के आधार पर अभ्यर्थियों की विशेष दस्ते में नियुक्ति होगी। कंवर ने बताया कि मंडला के अलावा सबसे ज्यादा बालाघाट में 80 फिर डिंडौरी में 40 पदों पर भर्ती स्वीकृत हैं। विशेष दस्ता बनने से नक्सल प्रभावित क्षेत्र में तैनात हॉक फ़ोर्स पुलिस जवानों की टीम को बड़ी मदद मिलेगी। फ़ोर्स की कमी काफी हद तक दूर हो सकेंगी। साथ ही जंगलों में पेट्रोलिंग सर्चिंग के दौरान टुकड़ों में टीम एक साथ कूच कर सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *