भारत में ऑनलाइन रिटेल प्लेटफॉर्म पर फेस्टिवल सेल्स हुई 5.7 बिलियन डॉलर की

नई दिल्ली
भारत में ऑनलाइन रिटेल प्लेटफॉर्म ने 22 से 30 सितंबर के बीच फेस्टिवल सेल्स में 5.7 बिलियन डॉलर (करीब 40,000 करोड़ रुपये) की कमाई की, जो कि 27 फीसदी (साल-दर-साल) की मजबूत वृद्धि है। गुरुवार को एक रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। मार्केट रिसर्च फर्म रेडसीर स्ट्रैटेजी कंसल्टेंट्स की रिपोर्ट के अनुसार, मोबाइल फोन सकल व्यापारिक मूल्य (जीएमवी) में 41 प्रतिशत योगदान के साथ बाजार में अग्रणी बने हुए हैं और हर घंटे लगभग 56,000 मोबाइल हैंडसेट बेचे गए।

फेस्टिवल सेल्स के पहले हफ्ते में 75-80 मिलियन खरीदारों ने सभी प्लेटफॉर्म पर ऑर्डर दिए।

फेस्टिव सेल्स के पहले हफ्ते में दुकानदारों की संख्या में पिछले साल के मुकाबले 24 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

फ्लिपकार्ट ग्रुप (फ्लिपकार्ट, मिंत्रा और शॉपसी) ने जीएमवी में 62 प्रतिशत मार्किट शेयर के साथ बाजार को लीड करना जारी रखा, जबकि मीशो मार्किट शेयर में 21 प्रतिशत के साथ दूसरे स्थान पर रहा।

रेडसीर स्ट्रैटेजी कंसल्टेंट्स के एसोसिएट पार्टनर संजय कोठारी ने कहा, एक कैटेगिरी के रूप में मोबाइल जीएमवी शेयर को लीड कर रहा है। जीएमवी में मोबाइल कैटेगिरी 41 प्रतिशत का योगदान देती है। हर घंटे 56,000 मोबाइल बेचे गए। दूसरी ओर, फैशन ने जीएमवी में 20 प्रतिशत का योगदान दिया, जो पिछले त्योहारी बिक्री अवधि से सालाना आधार पर 48 प्रतिशत बढ़ा।

रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि फेस्टिव सीजन के दौरान हर सप्ताह प्रति ऑनलाइन खरीदार खर्च में मामूली रूप से 3 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

फेस्टिव सेल्स के पहले चार दिनों में, भारत में ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म ने 24,500 करोड़ रुपये (लगभग 3.5 बिलियन डॉलर) से अधिक की कमाई की।

पहले चार दिनों के दौरान लगभग 55 मिलियन लोगों ने ऑनलाइन खरीदारी की, कुल दैनिक औसत सकल व्यापारिक मूल्य (जीएमवी) बढ़कर 5.4 गुना हो गया।

बेंगलुरु स्थित रेडसीर ने दिवाली तक पूरे त्योहारी महीने के दौरान 11.8 अरब डॉलर के सकल व्यापारिक मूल्य (जीएमवी) की भविष्यवाणी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *