ग्रामोदय से राष्ट्र उदय की अवधारणा पर चित्रकूट में ग्रामोदय मेला 9 से 12 अक्टूबर तक

भोपाल
चित्रकूट में 9 से 12 अक्टूबर तक ग्रामोदय से राष्ट्र उदय की अवधारणा पर होने वाले ग्रामोदय मेला में "एक जिला-एक उत्पाद" के अलावा राज्य शासन के कई विभाग भी सहभागिता करेंगे। भारत रत्न नानाजी देशमुख की जयंती पर होने वाले इस आयोजन में सांस्कृतिक कार्यक्रमों से ओत-प्रोत शरद उत्सव भी होगा। ग्रामोदय मेले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित केन्द्रीय मंत्रि-परिषद के सदस्य भी शामिल होंगे।

सचिव एमएसएमई पी. नरहरि ने बताया कि मेला में तीन अलग-अलग परिसर होंगे। एक परिसर में "एक जिला-एक उत्पाद" के लिए विशेष रूप से प्रदर्शनी होगी। दूसरे परिसर में राज्य के सभी विभागों के लिए प्रमुख विभागीय कार्यक्रम, विकास गतिविधियों, योजनाओं, नीतियों आदि को प्रदर्शित करने के लिए प्रदर्शनी तथा स्टॉल होंगे। तीसरा परिसर केन्द्र शासन के मंत्रालय/उपक्रम तथा निजी क्षेत्र की कंपनियों के लिये होगा। चार दिवसीय मेले में अलग-अलग विषयों पर सेमीनार, परिचर्चा, गोष्ठियाँ और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे।

प्रदर्शनी में भाग लेने के लिए कोई स्टॉल शुल्क नहीं लिया जाएगा। संबंधित विभागों को अपने-अपने प्रतिनिधियों के ठहरने और यात्रा परिवहन में होने वाला व्यय वहन करना होगा। प्रदर्शनी से संबंधित किसी भी प्रश्न या समस्या के समाधान के लिए आदित्य दुबे से +91 9752030900/ aditya.dubey@ficci.com पर संपर्क किया जा सकता है।

ग्रामोदय मेले में भाग लेने के लिये उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण, महिला एवं बाल विकास, किसान-कल्याण एवं कृषि, लोक स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, ऊर्जा विकास निगम, वन, नगरीय विकास एवं आवास, खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण, मध्यप्रदेश औद्योगिक विकास निगम (एमपीआईडीसी) ने अपनी सहभागिता पर सहमति दी है। मेले में जन-समुदाय के अधिक संख्या में सम्मिलित होने के दृष्टिगत लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा प्राथमिक उपचार के लिये हेल्थ क्लीनिक स्थापित किया जायेगा। मेला आयोजन की व्यापक रूप से तैयारियाँ चल रही हैं। दीनदयाल शोध संस्थान के इस आयोजन में मध्यप्रदेश शासन सहयोगी राज्य के रूप में सहभागिता कर रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *