एकनाथ शिंदे देंगे उद्धव ठाकरे को तगड़ा झटका, फिर तोड़ेंगे कई सांसद और विधायक

मुंबई
दशहरा रैली के लिए शिंदे और उद्धव गुट दोनों ने ही कमर कस ली है। इसी बीच शिवसेना सांसद कृपाल तुमाने ने बड़ा दावा किया है। उनका कहना है कि इस रैली में उद्धव गुट के दो सांसद और पांच विधायक एकनाथ शिंदे के गुट में शामिल हो जाएंगे। बता दें कि शिंदे गुट में 40 विधायक पहले से ही थी जिसके बलबूते उन्होंने उद्धव ठाकरे को कुर्सी छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया था। इसके अलावा नई सरकार के गठन के बाद 12 सांसद भी शिंदे गुट में शामिल हो गए थे। अगर तुमाने का दावा सच होता है तो शिंदे गुट में 14 साांसद और 45 विधायक हो जाएंगे। उधर उद्धव ठाकरे के गुट में केवल 9 विधायक ही शेष रह जाएंगे।

56 साल बाद पहली बार ऐसा हो रहा है कि दो दशहरा रैलियां आयोजित की जा रही हैं। जानकारी के मुताबिक बड़ी संख्या में लोग जनसभाओं में पहुंच रहे हैं। शिवसेना में बगावत करने के बाद एकनाथ शिंदे लगातार दावा कर रहे हैं उनका गुट ही असली शिवसेना है। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने यह तय करने का काम चुनाव आयोग को सौंप दिया है। अगर शिंदे कैंप में विधायक और सांसद शामिल हो जाते हैं तो  जाहिर सी बात है कि चुनाव आयोग भी उन्हीं के पक्ष में फैसला सुना सकता है।

एकनाथ शिंदे बीकेसी ग्राउंड में लगने वाले दशहरा मेले में कई बड़े आरोप लगा सकते हैं। उन्होंने विधानसभा में कहा था कि महाविकास अघाड़ी सरकार में उन्हें मुख्यमंत्री बनाने की बात कही गई थी लेकिन बाद में उद्धव ठाकरे खुद ही सीएम बन गए औऱ उन्हें शहरी विकास मंत्रालय का कार्यभार दे दिया है। उन्होंने यह भी कहा था कि उनके विभाग में गैरजरूरी दखल दिया जाता था। दशहरा मेले में एकनाथ शिंदे इन आरोपों को और विस्तार दे सकते हैं।  

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *