मप्रपक्षेविविकं इंदौर ने जुलाई में एकत्र किया 900 करोड़ का राजस्व

भोपाल

मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने माह जुलाई में 900 करोड़ रूपए का रिकॉर्ड राजस्व संग्रहित किया है। इस उपलब्धि पर ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कंपनी प्रबंधन, अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है। यह कंपनी के प्रबंधन, अधिकारियों, मैदानी कर्मचारियों के परिश्रम का परिणाम है। ऊर्जा मंत्री ने समय पर राशि चुकाने वाले उपभोक्ताओं का आभार माना है।

मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने जुलाई 2022 में अभियान चलाकर पूरे 31 दिन राजस्व संग्रहण के लिए विशेष प्रयास किए। इसी का परिणाम रहा कि जुलाई में कंपनी को 900 करोड़ रूपए का राजस्व प्राप्त हुआ। इसमें सबसे ज्यादा 246 करोड़ रूपये इंदौर शहर वृत्त से प्राप्त राशि है। इंदौर शहर का सीआरपीयू भी मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा है।

विद्युत वितरण कम्पनी के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने कहा कि जुलाई में ग्रीष्मकाल के अंतिम माह जून की बिल राशि एकत्र करने के लिए विशेष प्रयास किए गये। सभी कर्मचारियों, अधिकारियों ने समर्पित भावना के साथ कार्य किया। तोमर ने कहा कि कर्मचारियों की कठिनाइयों का त्वरित समाधान किया गया, जिससे वे अगले दिन अच्छे मनोबल के साथ कार्य करें। इसी का परिणाम 900 करोड़ रूपये के राजस्व संग्रहण के रूप में सामने आया। मंत्री तोमर ने कहा कि सामान्य रूप से जुलाई में बिल राशि आबादी क्षेत्रों से ही प्राप्त होती है, क्योंकि यह समय किसानों की ओर से मिलने वाले अंशदान (एफआरटी) का नहीं होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *