छत्तीसगढ़ रायपुर

कलेक्टर डॉ. सिंह ने मात्र दो माह की अल्प अवधि में जिले को एक नई पहचान दी – जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिन्हा

मुंगेली
कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह को कल 30 जून को जिला कलेक्टोरेट स्थित जदर्शन हाल में जिला प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा भावभीनी विदाई दी। कलेक्टर डॉ. सिंह का पदस्थापना छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय के आदेश के तहत कलेक्टर जिला बालोद किया गया है। विदाई समारोह को जिला एवं सत्र न्यायाधीश अरविंद कुमार सिन्हा ने संबोधित करते हुए कहा कि कलेक्टर डॉ सिंह ने मात्र दो माह की अल्प अवधि में ही विकास के क्षेत्र में जिले को एक नई पहचान दी। डॉ. सिंह जनसमस्याओं के निवारण में भी काफी सराहनीय कार्य किए। उनके नेतृत्व क्षमता को हमेशा याद किया जाएगा।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश सिन्हा ने कलेक्टर डॉ. सिंह के सुखद भविष्य की कामना की। कलेक्टर डॉ सिंह ने कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों का एक जिले से दूसरे जिले में स्थानान्तरण होना सामान्य प्रक्रिया है। उन्होंने शासन, प्रशासन के प्रति जनता में जो विश्वास पैदा होता है, उस विश्वास को निरंतर बनाए रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि कभी किसी को कम नहीं समझना चाहिए। यदि गरीब, असहाय का सेवा करने का अवसर मिलता है, तो उसके लिए ईश्वर का धन्यवाद करना चाहिए। कलेक्टर डॉ सिंह ने कहा कि जिले में मात्र दो महीना के कार्यकाल में जिलेवासियों से बहुत स्नेह, प्यार और सम्मान मिला। इसे वो हमेशा याद रखेंगे। उन्होंने जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों की सराहना करते हुए कहा कि जिले के विकास को गति देने के लिए सभी का योगदान महत्वपूर्ण रहा है। सभी ने मिल जुलकर एक बेहतर टीम की तरह कार्य किया है। इससे आमजनों का भरोसा प्रशासन के प्रति बढ़ा है। पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह ने भी विदाई समारोह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कलेक्टर डॉ सिंह के साथ काम करने का सुखद अनुभव रहा। उन्होंने कहा कि कलेक्टर डा सिंह गरीब और असहाय लोगों की मदद करने और आमजनों की समस्याओं के त्वरित निराकरण करने के क्षेत्र में हमेशा आगे रहे। वनमण्डलाधिकारी गणेश राजन ने कहा कि कलेक्टर डॉ. सिंह के कार्यकाल में बहुत कुछ सीखने को मिला। जमीनी स्तर पर आमजनों से जुड़कर कार्य करने का अवसर मिला।

अपर कलेक्टर तीर्थराज अग्रवाल ने कहा कि कलेक्टर डॉ सिंह का मार्गदर्शन हमे हमेशा प्राप्त होता रहा। उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला। उन्होंने आमजनों के समस्याओं के निराकरण, हितग्राहियों को राशन, पेंशन, सहायता राशि दिलाने में अभूतपूर्व कार्य किया। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डी. एस. राजपूत ने कहा कि कलेक्टर डॉ सिंह के साथ काफी कम समय काम करने का अवसर मिला, लेकिन सीखने को बहुत कुछ मिला। विदाई समारोह को अन्य अधिकारियों ने भी संबोधित किया और कलेक्टर डॉ सिंह के साथ कार्य करने के अपने अनुभवों को साझा किया। इस दौरान कलेक्टर डॉ सिंह को अधिकारियों ने प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया और उनके उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर कलेक्टर डॉ. सिंह की धर्मपत्नी डॉ. सुनीता सिंह, संयुक्त कलेक्टर द्वय नवीन भगत एवं श्रीमती नम्रता आनंद डोंगरे, एसडीएम लोरमी श्रीमती मेनका प्रधान, एसडीएम पथरिया श्रीमती प्रिया गोयल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *