दिल्ली

यदि गठबंधन नहीं हुआ तो पूर्व सहयोगियों को देंगे करारी शिकस्त, शिवसेना पर शाह का पलटवार

 
नई दिल्ली 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को महाराष्ट्र के लातूर में शिवसेना का सीधे तौर पर नाम न लेते हुए चेतावनी दी कि अगर गठबंधन होता है तो पार्टी अपने सहयोगी दलों की जीत सुनिश्चित करेगी और अगर ऐसा नहीं होता है तो पार्टी आगामी लोकसभा चुनावों में अपने पूर्व सहयोगियों को करारी शिकस्त देगी.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा बीजेपी कार्यकर्ताओं को राज्य की 48 लोकसभा सीटों में से 40 पर जीत हासिल करने का लक्ष्य दिए जाने के फौरन बाद अमित शाह ने यह टिप्पणी की. शाह और फडणवीस ने रविवार को कई जिलों के पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया.

इस दौरान बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं को गठबंधन की संभावना के भ्रम से दूर रहना चाहिए. अगर सहयोगी दल हमारे साथ आते हैं तो हम उनकी जीत सुनिश्चित करेंगे, वरना हम उन्हें पटक देंगे. पार्टी कार्यकर्ताओं को हर बूथ पर तैयारी करना चाहिए.

'ईवीएम से गठबंधन करेगी बीजेपी'

अमित शाह के इस बयान पर शिवसेना ने भी पलटवार किया है. शिवसेना का कहना है कि अमित शाह का बयान बताता है कि बीजेपी अब उन लोगों के साथ गठबंधन नहीं करना चाहती है जो हिंदुत्व में विश्वास रखते हैं. शिवसेना की ओर से कहा गया कि बीजेपी इस बार ईवीएम से गठबंधन करेगी.

उन्होंने इन चुनावों की तुलना पानीपत की तीसरी लड़ाई से की. गौरतलब है कि पानीपत की तीसरी लड़ाई में मराठा सेना को अफगान शासक अहमद शाह अब्दाली की सेना ने हराया था. बीजेपी प्रमुख ने कहा कि उस लड़ाई के बाद देश 200 साल तक गुलाम रहा था. साथ ही उन्होंने कहा, ‘अगर हम यह चुनाव जीतते हैं तो हमारी विचारधारा अगले 50 साल तक शासन करेगी.’ शाह ने फडणवीस के विचारों से सहमति जताते हुए कहा, ‘हमें (महाराष्ट्र में) 48 में कम-से-कम 40 सीटों पर जीत का लक्ष्य रखना चाहिए.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *